mp gk hindi mittiyan se sambandhit gk

मध्य प्रदेश भूमि एवं मृदा सामान्य ज्ञान

Last Updated on April 2, 2021 by eGKhindi

भारतीय भूमि एवं मृदा सर्वेक्षण  विभाग ने मध्य प्रदेश की मिट्टियाँ 5 भागों में वर्गीकृत किया है —

mp gk hindi mittiyan se sambandhit gk

1. काली मिट्टी

  • स्थानीय लोग इसे भर्री या कनहर भी कहते हैं।
  • मध्य प्रदेश में सर्वाधिक पायी जाने वाली मिटटी है।
  • दक्क्न ट्रैप में बेसाल्ट नामक आग्नेय चटानों से निर्मित यह लावा मिट्टी है।
  • इसका pH मान 6.3. – 6.4. है।
  • काली मिट्टी को रेगड़ मिटटी भी कहते हैं।
  • काली मिट्टी में फास्फेट, नाईट्रोजन एवं जैव पदार्थ की कमी होती है।
  • चिका और बालू निर्मित लोहे और चुने की प्रधानता है।

2. लाल पिली मिट्टी

  • दूसरी सर्वाधिक मात्रा में पाई जाने वाली बुंदेलखंड के कुछ भाग तथा बघेलखण्ड में यह पाई जाती है विशेषकर, मण्डला, बालाघाट, सीधी, शहडोल जिलों में है।
  • लाल पिली मिट्टी के रंग का निर्धारण आर्कियन, धारवाड़ तथा प्रमुखतः गोंडवाना काल की चटानों के ऋतुक्षरण से हुआ है।
  • लाल पीली मिट्टी का pH मान 5.5. से 8.5. तक होता है अर्थात यह मिट्टी अम्लीय से क्षरिय है।
  • लाल पीली मिट्टी चावल की कृषि के लिए अधिक उपयुक्त होती है।
  • लाल – पीली मिट्टी में नाइट्रोजन की कमी होती है।

3. जलोढ़ मिट्टी

  • राज्य के उत्तर पश्चिमी जिलों यथा भिंड, मुरैना, शिवपुरी, ग्वालियर में यह क्षारीय प्रकृति की है।
  • इसे एलयूवाईल मिट्टी या दोमट मिट्टी भी कहते हैं।
  • जलोढ़ मिट्टी क्षेत्र में मृदा अपरदन – अपरदन को रेंगती हुई मृत्यु कहा जाता है। यह चंबल बहाव क्षेत्र है। मध्य प्रदेश के उत्तरी भाग विशेषकर भिंड, श्योपुर, मुरैना, ग्वालियर सबसे अधिक प्रभावित है।
  • जलोढ़ मिट्टी का निर्माण बुंदेलखंड नीस के ऋतुक्षरण तथा चंबलनदी द्वारा निक्षेपति पदार्थों से हुआ है।
  • जलोढ़ मिट्टी प्रदेश के 30 लाख एकड़ क्षेत्रफल में पायी जाती है।
  • जलोढ़ मिट्टी का pH मान 7 से अधिक होता है।
  • जलोढ़ मिट्टी में मुख्य रूप से सरसों एवं गेहूं की फसल पैदा की जाती है।
  • जलोढ़ मिट्टी में उर्वरता अधिक होती है।

4. लैटराइट मिट्टी

  • इस भाटा भी कहते हैं। छिंदवाड़ा और बालाघाट जिलों के लगभग 70 प्रतिशत भाग यह पाई जाती है।

5. बलुई मिट्टी

  • इसे लाल – रेतीली मिट्टी भी कहते हैं। बुंदेलखंड के कुछ भाग में रेत और बालू से मिश्रित मिटटी पाई है। जो नीस, ग्रेनाइट चट्टानों की टूटने से निर्मित है।

One thought to “मध्य प्रदेश भूमि एवं मृदा सामान्य ज्ञान”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *