सामान्य ज्ञान 2019 – GK Hindi 2019 Questions

सामान्य ज्ञान 2019 हिंदी में यहाँ पर पढ़ें. जनरल नोलेज 2019 और 2020 यहाँ पर दिया गया है. अगर आप चाहते हैं की आप आने वाले exams में अपना मुकाम हासिल कर लें तो यहाँ दिया हुआ सामान्य ज्ञान 2019 ज़रूर पढ़ें. हिंदी सामान्य ज्ञान आने वाले exams के लिए बहुत ही ज्यदा महत्व पूर्ण है. यहाँ ज़रूर पढ़ें दोस्तों.

The candidates are suggested to do check out the Samanya Gyan 2019 – 2020 for the upcoming examinations of the HPSSB, HSSC, RPSC, UPSC, and other state Government exams. The Samanya Gyan in Hindi 2019 will include the various subjects like History, Political, Economics, Geography, Rivers, Mountains, and static general knowledge questions and answers 2019.

सामान्य ज्ञान 2019 हिंदी

सामान्य ज्ञान 2019 – GK in Hindi 2019

1. क्षेत्रफल की दृष्टि से प्राचीन सभ्यताओं में हड़प्पा संस्कृति का विस्तार सर्वाधिक था.

2. सिंधु सभ्यता त्रिभुजाकार क्षेत्र में फैली हुई थी तथा इसका क्षेत्रफल 1299600 वर्ग किलोमीटर था.

3. विद्वानों के अनुसार सिंधु सभ्यता की प्रथम राजधानी हड़प्पा थी.

4. सिंधु घाटी की सभ्यता को हड़प्पा सभ्यता के नाम से भी जाना जाता है.

5. प्रारंभ में सिंधु घाटी सभ्यता सिंधु और उसकी सहायक नदियों के समीपस्थ क्षेत्रों में स्थित थी, जिसके कारण इसे सिंधु सभ्यता का नाम दिया गया.

6. सिंधु घाटी सभ्यता एक नगरीय सभ्यता थी.

7. सिंधु सभ्यता के नगर आधुनिक व्यवसायिक शैली पर निर्मित किए गए थे.

8. विशाल अन्नागारो के अवशेष हड़प्पा एवं मोहनजोदड़ो से प्राप्त हुए हैं.

9. मोहर निर्माण मैं सेल खड़ी का प्रयोग सर्वाधिक हुआ है.

10. सिंधु निवासी अधिकांश तांबे और कांस्य से बने अस्त्र शस्त्र का प्रयोग करते थे.

11. उत्खनन में मोहनजोदड़ो से सर्वाधिक विशाल एवं सार्वजनिक स्नानागार प्राप्त हुआ है.

12. कालीबंगा और रंगपुर नगर को छोड़कर नगर निर्माण के कार्य में प्राय पक्की हुई ईटों का प्रयोग किया जाता था.

13. ऐसा अनुमान है कि स्वास्तिक चिन्ह हड़प्पा की ही देन है.

14. रोपड़, बाड़ा, एवं संघोल भारत के पंजाब प्रांत में स्थित हैं.

15. राखीगढ़ी नामक पुरास्थल हरियाणा राज्य के जींद जिले में स्थित है.

16. हड़प्पा से प्राप्त मुद्रा में गरुड़ का अंकन मिला है.

17. लोथल एवं कालीबंगा से अग्निकुंड प्राप्त हुए हैं.

18. लोथल एवं देपालपुर से तांबे की मुद्रा प्राप्त हुई है.

19. लोथल से गोदी बाड़ा के अवशेष प्राप्त हुए हैं.

20. रंगपुर गुजरात की मादर नदी किस में स्थित है.

21. सिंधु प्रदेश में मंदिर होने का कोई अवशेष प्राप्त नहीं हुआ है.

22. सिंधु वासियों ने सर्वप्रथम कपास की खेती की थी.

23. सिंधु वासी पीपल के वृक्ष को सर्वाधिक पवित्र मानते थे.

24. सिंधु कालीन समाज मैं मूर्ति पूजा का प्रचलन था.

25. मोहनजोदड़ो को सिंध का नखलिस्तान के नाम से भी जाना जाता है.

26. सिंधु वासी पशुपति महादेव की पूजा करते थे.

27. सिंधुवासियों द्वारा टीन और तांबा को मिलाकर कांसा तैयार किया जाता था.

28. सिंधु वासियों को लिपि का ज्ञान नहीं था.

29. सिंधु समाज में मात्री देवी की उपासना की जाती थी.

30. सिंधु सभ्यता अथवा हड़प्पा सभ्यता के पतन के पश्चात सेंधव प्रदेश में आर्यों की वैदिक सभ्यता का विकास हुआ.

31. वैदिक सभ्यता के निर्माता आर्य थे.

32. वैदिक सभ्यता वेद से संबंधित थी.

33. ऋग्वेद का रचनाकाल 1500 पूर्व से 1000 ईसवी पूर्व तक रहा है.

34. उत्तर वैदिक काल का रचनाकाल 1000 ईसवी पूर्व से लेकर 500 पूर्व तक रहा है.

35. ऋग्वेद आर्यों का सर्वाधिक पवित्र एवं प्राचीन ग्रंथ था.

36. ऋग्वेद में पार्थिव देवता वर्ग में अग्नि देवता का महत्वपूर्ण स्थान था.

37. अनेक कुटुंब के समूह को ग्राम कहा जाता था.

38. वैदिक काल में शासन व्यवस्था प्रमुखतया राजतंत्रात्मक थी.

39. वैदिक काल में बाल विवाह की प्रथा प्रचलित नहीं थी.

40. आर्यों का प्रिय पशु घोड़ा था.

41. आलू द्वारा धातु लोहा की खोज की गई जिसे श्याम यस कहा जाता था.

42. सत्यमेव जयते मुंडकोपनिषद् से लिया गया है.

43. विश्व का सबसे बड़ा महाकाव्य महाभारत है.

44. महाभारत का पुराना नाम जयसंहिता है.

45. बौद्ध धर्म के संस्थापक महात्मा बुद्ध थे.

46. महात्मा बुद्ध का जन्म लुंबिनी नामक ग्राम में 583 ईस्वी पूर्व हुआ था.

47. महात्मा बुद्ध ने 29 वर्ष की अवस्था में गृह त्याग दिया था.

48. महात्मा बुद्ध का बचपन का नाम राहुल साहब.

49. पीपल के वृक्ष को बोधि वृक्ष के नाम से जाना जाता है.

50. महात्मा बुद्ध को उरुवेला में पीपल के वृक्ष के नीचे ज्ञान की प्राप्ति हुई थी.

Samanya Gyan Hindi 2019 | सामान्य ज्ञान 2019

51. बुद्ध ने अपना पहला उपदेश वाराणसी के सारनाथ में दिया था.

52. बुद्ध का प्रथम उपदेश या बौद्ध परंपरा में धर्म चक्र प्रवर्तन के नाम से जाना जाता है.

53. बहुत मत की तीन प्रमुख अंग थे – बौद्ध, संघ एवं धम.

54. बौद्ध धर्म पुनर्जन्म में विश्वास करता था.

55. बुद्ध, आत्मा और ईश्वर के अस्तित्व में विश्वास नहीं रखते थे.

56. हीनयान, महायान वज्रयान बौद्ध धर्म के संप्रदाय थे.

57. जातक कथाएं पाली भाषा में लिखी गई हैं.

58. बुद्ध चरित्र तथा सौंदरानंद संस्कृत भाषा में आशव घोष द्वारा लिखित महाकाव्य है.

59. बुद्ध की मृत्यु को बौद्ध ग्रंथों में महापरिनिर्वाण के नाम से जाना जाता था.

60. ऋषभदेव जैन धर्म के संस्थापक एवं प्रथम तीर्थकर थे.

61. जैन धर्म के अंतिम एवं चौबीसवें तीर्थंकर महावीर स्वामी थे.

62. जैन धर्म के 23वें तीर्थंकर पार्श्वनाथ थे.

63. पार्श्वनाथ के अनुयायियों को निर ग्रंथ कहा जाता था.

64. पार्श्वनाथ महावीर स्वामी से 250 वर्ष पूर्व हुए थे.

65. पार्श्वनाथ ने जैन धर्म में स्त्रियों को प्रवेश दिया था.

66. महावीर स्वामी के पिता सिद्धार्थ तांत्रिक कुल मुखिया थे.

67. जैन साहित्य को आगम कहा जाता है.

68. जैन धर्म पुनर्जन्म में विश्वास करता है.

69. जैन धर्म ईश्वर को सृष्टिकर्ता नहीं मानता है, बल्कि सृष्टि का निर्माण छह द्रव्य से मिलकर हुआ है.

70. घोषाल महावीर स्वामी के प्रथम सहयोगी बने.

71. जिन्होंने अपने धर्मोपदेश के लिए प्राकृतिक भाषा का प्रयोग किया.

72. ईसाई धर्म ईसा मसीह के द्वारा संस्थापित किया गया.

73. ईसा मसीह की माता का नाम मैरी था.

74. ईसाई धर्म का सबसे पवित्र चिन्ह क्रॉस है.

75. इस्लाम धर्म के संस्थापक हजरत मुहम्मद थे.

76. मगध पर शासन करने वाला प्राचीनतम ज्ञात राजवंश वृहद्रथ वंश था.

77. मगध के सबसे प्राचीन वंश के संस्थापक वृहद्रथ थे.

78. मगध की पहली राजधानी गिरिव्रज थी.

79. हर्यक वंश का संस्थापक बिंबिसार को माना जाता है.

80. बिंबिसार के बाद उसका पुत्र अजातशत्रु कुणिक मगध का शासक बना.

81. बौद्ध धर्म एवं जैन धर्म का अभ्युदय मगध राज्य में हुआ.

82. अजातशत्रु का अन्य नाम कुणिक था.

83. मगध पर शासन करने वाला नाग शासक हर्यक वंश का अंतिम शासक था.

84. कालाशोक ने पाटलिपुत्र को अपनी राजधानी बनाया.

85. चंद्रगुप्त मौर्य ने 322 ईस्वी पूर्व में मौर्य वंश की स्थापना की थी.

86. चंद्रगुप्त मौर्य ने कौटिल्य के सहयोग से घनानंद की हत्या कर मौर्य वंश की स्थापना की थी.

87. ब्राह्मण ग्रंथ चंद्रगुप्त मौर्य को शूद्र अथवा निम्न कुल बताते हैं.

88. बौद्ध तथा जैन ग्रंथ चंद्रगुप्त मौर्य को क्षत्रिय बताते हैं.

89. मेगस्थनीज की पुस्तक इंडिका मौर्य इतिहास का प्रमुख स्त्रोत है.

90. मुद्राराक्षस में चंद्रगुप्त मौर्य को कुल हीन कहा गया है.

91. चाणक्य का मूल नाम विष्णुगुप्त था.

92. चाणक्य ने राज्य शासन के ऊपर अर्थशास्त्र नामक ग्रंथ की रचना की थी.

93. जस्टिन ने चंद्रगुप्त मौर्य की सेना को डाकुओं का गिरोह कहा है.

94. सेल्यूकस ने अपनी पुत्री का विवाह चंद्रगुप्त मौर्य से किया था.

95. चंद्रगुप्त मौर्य की शासन प्रणाली राजतंत्रात्मक थी.

96. जूनागढ़ स्थित सुदर्शन झील का निर्माण चंद्रगुप्त मौर्य ने कराया था.

97. चंद्रगुप्त मौर्य ने अपने जीवन के अंतिम दिनों में जैन धर्म स्वीकार कर लिया था.

98. बिंदुसार ने लगभग 25 वर्षों तक शासन किया था.

99. अशोक बिंदुसार का पुत्र था.

100. बिंदुसार के शासन काल में अशोक अवंति का उप राजा था.

सामान्य ज्ञान 2019 हिंदी एक लाइन में

101. पुराणों में अशोक को अशोक वर्धन कहा गया है.

102. सिकंदर मकदूनिया के राजा फिलीप का पुत्र था.

103. सिकंदर अरस्तु का शिष्य था.

104. सिकंदर के विजय अभियान की अंतिम विजय पाटिल विजय थी.

105. भारत आक्रमण के समय झेलम प्रदेश का राजा पोरस था.

106. भारत अभियान में सिकंदर ने सिंधु नदी के पश्चिमी प्रदेशों को एक प्रांत में संगठित किया था.

107. सिकंदर भारत में मात्र 19 माह तक रहा था.

108. सिकंदर की मृत्यु 323 ईसवी पूर्व में बेबी लॉन में की अवस्था में हुई थी.

109. भारत के किसान राज्य में कनिष्क सबसे महान शासक था.

110. कनिष्क के राज्य की दूसरी राजधानी मथुरा थी.

111. अश्वघोष कनिष्क का राजकवि था.

112. गांधार शैली में अनेक बौद्ध मूर्तियों का निर्माण हुआ.

113. गुप्त वंश का संस्थापक श्री गुप्त था.

114. घटोत्कच गुप्त का पुत्र था.

115. भारतीय इतिहास गुप्त साम्राज्य के काल को स्वर्ण युग के नाम से जाना जाता है.

116. चंद्रगुप्त प्रथम का उत्तराधिकारी समुद्रगुप्त था.

117. चंद्रगुप्त द्वितीय को इतिहास में विक्रमादित्य के नाम से जाना जाता है.

118. गुप्त काल में हिंदू धर्म की अत्यधिक उन्नति हुई.

119. गुप्त काल में राज्य की आय के प्रमुख स्त्रोत भू राजस्व कर थे.

120. गजनी अफगानिस्तान का एक छोटा सा राज्य था.

121. महमूद ग़ज़नवी मध्य एशिया के कुछ भागों को जीतकर गजनी राज्य को शक्तिशाली बनाना चाहता था.

122. महमूद गजनवी ने भारत पर कुल 17 बार आक्रमण किया.

123. मोहम्मद गोरी को शहाबुद्दीन अथवा मोईनुद्दीन भी कहा जाता है.

124. 1173 ईस्वी में मोहम्मद गौरी गजनी का सूबेदार बना था.

125. तराइन के प्रथम युद्ध में पृथ्वीराज तृतीय ने मोहम्मद गजनवी को प्रभावित किया था.

126. तराइन के द्वितीय युद्ध में मोहम्मद गोरी ने पृथ्वीराज चौहान को पराजित किया था.

127. मोहम्मद गौरी का कोई पुत्र नहीं था.

128. कुतुबुद्दीन ऐबक ने गुलाम वंश की नींव रखी थी.

129. कुतुबुद्दीन ऐबक ने अपनी राजधानी लाहौर में बनाई थी.

130. कुतुबुद्दीन ऐबक को उदारता एवं दानी स्वभाव के कारण लाल बख्श एवं हातिम द्वितीय की उपाधि दी गई थी.

131. कुतुबुद्दीन ऐबक मूल रूप से एक गुलाम था.

132. दीन ऐबक की मृत्यु के पश्चात उसका पुत्र आरामशाह शासक के रूप में गद्दी पर बैठा.

133. दिल्ली सल्तनत का सुल्तान बनने से पहले इल्तुतमिश बदायूं का सूबेदार था.

134. इल्तुतमिश ने अपनी राजधानी दिल्ली में बनाया.

135. इल्तुतमिश ने कुतुबुद्दीन ऐबक द्वारा प्रारंभ किए कुतुब मीनार का निर्माण पूरा कराया था.

136. रजिया सुल्तान भारत की प्रथम महिला शासक थी.

137. रजिया ने अपने प्रमुख विरोधी वजीर मोहम्मद जुनेद को पराजित किया था.

138. रजिया सुल्तान ने अल्तुनिया से शादी की थी.

139. बहलोल लोदी अपने सरदारों को मकसद ए आली कहकर पुकारता था.

140. बहलोल लोदी के पश्चात सिकंदर लोदी गद्दी पर बैठा.

141. सिकंदर लोदी ने जजिया कर पुनः लगा दिया था.

142. मुगल साम्राज्य का संस्थापक बाबर था.

143. बाबर तैमूर का उत्तराधिकारी था.

144. बाबर ने बादशाह की उपाधि 1507 ईस्वी में धारण की थी.

145. बाबर का प्रथम सैन्य अभियान मेरा के किले पर हुआ था.

146. पानीपत के युद्ध में विजय उपरांत बाबर ने काबुल वासियों को एक चांदी का सिक्का प्रदान किया था. उसकी इस उदारता के कारण उसे कलंदर कहा गया था.

147. राणा सांगा एवं बाबर के बीच 1527 में खानवा का युद्ध हुआ था.

148. खानवा के युद्ध के बाद बाबर ने गाजी की उपाधि धारण की थी.

149. बाबर की मृत्यु 1530 में आगरा में हुई थी तथा उसे अंतिम रूप में काबुल में दफनाया गया था.

150. हुमायूं बाबर का जेष्ट पुत्र था.

सामान्य ज्ञान 2019 – 2020 | General Knowledge Hindi

Samanya Gyan Hindi PDF Download also available Here. GK in Hindi for the upcoming examinations. General Knowledge in Hindi for the upcoming examinations. Samanya Gyan Hindi is available here. GK Hindi 2019 – 2020.

151. हुमायूं की माता का नाम महिम बेगम था.

152. हिमायू का प्रथम सैन्य अभियान कालिंजर पर 1931 में आक्रमण था.

153. सन 1555 में हुमायूं पुनः दिल्ली की राजगद्दी पर बैठा.

154. सर 1556 में पुस्तकालय की सीढ़ियों से फिसलने के कारण हुमायूं की मृत्यु हुई थी.

155. शेरशाह को अफगान पुनर्जागरण का नेता कहा जाता है.

156. शेरशाह के बचपन का नाम फरीद था.

157. शेरशाह के पिता का नाम हसन खान था.

158. शेरशाह के नए एक शेर को एक ही बार में तलवार के प्रहार से मार देने के कारण शेर खान की उपाधि धारण की थी.

159. शेरशाह के समय मैं प्रांत सरकारों में बैठे हुए थे.

160. शेरशाह ने का नामाकरण पटना किया था.

161. अकबर को बैरम खान का संरक्षण प्राप्त था.

162. अकबर की मां का नाम हमीदा बानो बेगम था.

163. अकबर को बचपन में बदरुद्दीन नाम से पुकारा जाता था.

164. मुझे अभिषेक कलानौर में 1556 में हुआ था.

165. भारमल ने अपनी जेष्ठ पुत्री के साथ अकबर से विवाह किया था.

166. अकबरपुर सिकंदरा के निकट दफनाया गया था.

167. पानीपत के द्वितीय युद्ध में हेमू की पराजय हुई थी.

168. अकबर बाल विवाह को बुरा मानता था जबकि विधवा विवाह को प्रोत्साहन देता था.

169. जहांगीर अकबर का बड़ा पुत्र था जिसके बचपन का नाम सलीम था.

170. जहांगीर की पत्नी का नाम मेहरूनिशा और नूरजहां था.

171. नूरजहां ईरान निवासी मिर्जा ग्यास बेग की पुत्री थी.

172. जहांगीर के समय की सर्वश्रेष्ठ सफलता मेवाड़ की विजय थी.

173. जहांगीर के समय में पर राणा अमर सिंह का शासन था.

174. जहांगीर के समय को चित्रकला का स्वर्ण युग कहा गया है.

175. जहांगीर ने कश्मीर में शालीमार बाग का निर्माण करवाया था.

176. शाहजहां का प्रारंभिक नाम खुर्रम था.

177. शाहजहां ने नूरजहां को ₹200000 मासिक पेंशन पर लाहौर भेज दिया था जहां उसकी मृत्यु हो गई.

178. शाहजहां की मां का नाम जगत गोसाई और जोधा बाई था जो राजपूत घराने से संबंधित है.

179. औरंगजेब का जन्म 1618 ईसवी में उज्जैन में हुआ था.

180. औरंगजेब के गुरु मीर मोहम्मद हकीम थे.

181. औरंगजेब के समय में दक्षिण में तीन प्रमुख शक्तियां बीजापुर गोलकुंडा एवं मराठा थे.

182. शिवाजी के आध्यात्मिक गुरु रामदास जी.

183. शिवाजी मैं अपनी राजधानी रायगढ़ में बनाई थी.

हम जल्द ही और सामान्य ज्ञान 2019 हिंदी में आपको यहाँ पर provide करवाएंगे. Do check out the GK in Hindi also iin our website eGKhindi.com. Follow us on facebook or twitter for latest GK Questions and Answers.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *